HIGHLIGHTS


एस.जे.बी. मेमोरियल पब्लिक स्कूल में मनाया गया वार्षिक उत्सव, छोटे-छोटे बच्चों ने जनता का मन मोहा

Root News of India 2019-04-01 08:14:38    ENTERTAINMENT 14267




एस.जे.बी. मेमोरियल पब्लिक स्कूल में मनाया गया वार्षिक उत्सव, छोटे-छोटे बच्चों ने जनता का मन मोहा
मथुरा, 1 अप्रैल (आरएनआई) | जनपद मथुरा के गांव सेनवा में स्थित एस जे बी मेमोरियल पब्लिक स्कूल में आज पहला वार्षिकोत्सव मनाया गया इस में छोटे-छोटे बच्चों ने मन मोहक प्रस्तुतियां देकर वाले चुटकुले सुनाकर जनता का मन मोह लिया वही स्कूल के प्रिंसिपल मूलचंद ने बताया कि यह हमारा स्कूल का पहला वार्षिकोत्सव है जिसमें नन्हें-मुन्ने बच्चे अपनी प्रस्तुतियां दे रहे हैं ऐसे बच्चों में छुपी प्रतिभा हो निकालने के लिए यह वार्षिकोत्सव किया गया है जिसे बच्चों का भी मनोबल बढ़ता है और बड़े होकर अपने हुनर को लोगों के सामने निखार थे हैं

(मथुरा से नारायण सिंह की रिपोर्ट)






Related News

Entertainment

दुनिया में संतुष्टि का अभाव पीड़ादायक
Rupesh Kumar 2020-05-25 20:42:13
पटना, 25 मई 2020, (आरएनआई)। सृष्टि में अमीर कौन है भिखारी कौन है इसको समझना पूरे ब्रम्हाण्ड को समझने जैसा है।आज के वक़्त में ना कोई राष्ट्र , ना कोई नेतृत्व ,ना कोई विश्वव्यापी व्यापारी, ना छोटा व्यापारी, ना समाज, ना परिवार और ना ही इंसान संतुष्ट है।सब को कुछ न कुछ और पाने की चाहत पीड़ा का कारण होता है।जिसको भगवान की दी हुई आशीर्वाद रूप में जीवन से जुड़ी सारी ज़रूरत से संतुष्टि नही है वह इंसान इस दुनिया में किसी सांसारी वस्तु से संतुष्ट नही हो सकता।किसी ने सही ही कहा है कि इस दुनिया में कभी किसी को मुकम्मल जहाँ नहीं मिलता, कहीं ज़मीन तो कहीं आसमान नहीं मिलता है।इस संसार में जो भी इन्सान जन्म लेता है वो अपने साथ कुछ भी नहीं लाता है और जब इस संसार को छोड़कर जाता है तभी वो अपने साथ कुछ भी नहीं लेकर जाता है।परन्तु इंश्वर ने इस तरह का खेल इंसान के जीवन के साथ रचा की जब तक वो जिन्दा रहेगा पूरे जीवन भर भागता ही रहेगा।जिसके कारण वो अपनी पूरी जिंदगी इस संसार में कभी भी संतुष्ट नहीं होता है।इस बात को समझाने के लिए एक छोटी सी कहानी का उदहारण देता हु।किसी दूर राज्य में एक राजा शासन करता था। राजा बड़ा ही परोपकारी स्वभाव का था, प्रजा का तो भला चाहता ही था। इसके साथ ही पड़ोसी राज्यों से भी उसके बड़े अच्छे सम्बन्ध थे। राजा किसी भी इंसान को दुःखी देखता तो उसका ह्रदय द्रवित हो जाता और वो अपनी पूरी श्रद्धा से जनता का भला करने की सोचता।एक दिन राजा का जन्मदिन था। उस दिन राजा सुबह सवेरे उठा तो बड़ा खुश था। राजा अपने सैनिकों के साथ वन में कुछ दूर घूमने निकल पड़ा। आज राजा ने खुद से वादा किया कि मैं आज किसी एक व्यक्ति को खुश और संतुष्ट जरूर करूँगा।यही सोचकर राजा सड़क से गुजर ही रहा था कि उसे एक भिखारी दिखाई दिया। राजा को भिखारी की दशा देखकर बड़ी दया आई। उसने भिखारी को अपने पास बुलाया और उसे एक सोने का सिक्का दिया। भिखारी सिक्का लेके बड़ा खुश हुआ, अभी आगे चला ही था कि वो सिक्का भिखारी के हाथ से छिटक कर नाली में गिर गया। भिखारी ने तुरंत नाली में हाथ डाला और सिक्का ढूंढने लगा।राजा को बड़ी दया आई कि ये बेचारा कितना गरीब है, राजा ने भिखारी को बुलाकर एक सोने का सिक्का और दे दिया। अब तो भिखारी की खुशी का ठिकाना नहीं था। उसने सिक्का लिया और जाकर फिर से नाली में हाथ डाल के खोया सिक्का ढूंढने लगा।राजा को बड़ा आश्चर्य हुआ, उसने फिर भिखारी को बुलाया और उसे एक चांदी का सिक्का और दिया क्यूंकि राजा ने खुद से वादा किया था कि एक इंसान को खुश और संतुष्ट जरूर करेगा। लेकिन ये क्या ? चांदी का सिक्का लेकर भी उस भिखारी ने फिर से नाली में हाथ डाल दिया और खोया सिक्का ढूंढने लगा।राजा को बहुत बुरा लगा उसने फिर भिखारी को बुलाया और उसे एक और सोने का सिक्का दिया। राजा ने कहा – अब तो संतुष्ट हो जाओ। भिखारी बोला महाराज, मैं खुश और संतुष्ट तभी हो सकूँगा जब मुझे वो नाली में गिरा सोने का सिक्का मिल जायेगा।दोस्तों हम भी, आप भी , दुनिया का हर अमीर - ग़रीब भी उस भिखारी की ही तरह हैं और वो राजा हैं भगवान है । अब भगवान हमें कुछ भी देदे हम संतुष्ट हो ही नहीं सकते। ये मेरी या आपकी बात नहीं है बल्कि पूरी दुनिया में मानव जाति कभी संतुष्ट नहीं हुई है।संतुष्टि नही होने के कारण आज समाज परिवार में कई तरह की घटनाएँ घटित होती रहती है।हत्या , लूट सहित हर तरह की आपराधिक घटनाएँ नित्य दिन समाज में देखने सुनने को मिलती रहती है। कोई अपने परिवार से कोई अपने बच्चे से तो कोई अपने जीवनसाथी से संतुष्ट नही है।जो सबके पीड़ा का कारण है।सबको अधिक पैसा चाहिए, पैसा मिले तो अब कार चाहिए, कार मिले तो और महँगी कार चाहिए, दुनिया समाज में जो भी अच्छा दिखे उसको चाहिए। स्वर्ग की अनुभूति और आनंद चाहिए। सारी चीझे हर इंसान के अंदर संतुष्टि के रूप में है पर देखने की कोसिस नही करता है।जो इंसान के जीवन की पूरी यात्रा में यही क्रम चलता रहता है।भगवान ने हमें ये अनमोल शरीर दिया है लेकिन हम जिंदगी भर नाली वाला सोने का सिक्का ही ढूंढते रहते हैं। आप चाहे कितने भी अमीर हो जाओ, चाहे कितना भी धन कमा लो आप संतुष्ट नहीं हो सकते।इस संसार में ए सत्य है कि स्वयं इंसान स्वयं से संतुष्ट नही है।जो उसके तनाव , पीड़ा का मुख्य कारण है।आज हम सभी इंसान इस अनमोल पावन शरीर को पाकर भी हम संसार रूपी नाली से सिक्के ही ढूढ़ते रहते हैं।दोस्तों भगवान के दिए इस शरीर रूपी धन का इस्तेमाल दूसरों की मदद के लिए करें और संतुष्टि को तलाशे तो निश्चित आनंद रूप में संतुष्टि मन के अंदर दृष्टिगोचर होगी।संतुष्टि स्थायी नहीं होती यह अस्थायी व समयानुसार इंसान के जीवन सफ़र में सुख-दुःख, हर्ष आते जाते रहता है।इंसान हर पल को अपने सोच को संतुष्टि के रूप में ढाल ले तो पीड़ा की अनुभूति नही होगी।इंसान तुमको इस दुनिया में अगर सब कुछ मिल जाएगा ज़िंदगी मे तो तमन्ना किसकी करोगे। जीवन में कुछ अधूरी ख्वाइशें तो ज़िन्दगी जीने का मज़ा देती है।आज कोरोना महामारी के कारण विश्व, राष्ट्र, समाज में आर्थिक मंदी उत्पन हो जाने से भुखमरी एवं भीखक्षाटण के राह पर समाज के ग़रीब , मज़दूर चल पड़े है।यदि समाज के सक्षम इंसान सहयोग ,सहायता के लिए आगे बढ़े तो स्वयं के संतुष्टि , आनंद की अनुभूति होगी।आज के वक्त में भूखा सो रहा है अपने घर में । भूख क्या होती है उनसे बेहतर कौन जान सकता है। हम सभी से निवेदन करता हु कि गरीबो का दर्द समझिए और निःस्वार्थ सेवा कीजिए ताकी जीवन में आपको संतुष्टि मिले। सेवा करने से कोई छोटा नहीं होता।अतीत के पन्ने पलटेंगे तो देखेंगे कि अपना समाज यही सिखलाया गया है।सेवा करो फल भगवन देगा । इंसान हम तुम दरिया हैं, अपना हुनर मालूम है।संतुष्टि के साथ जिस तरफ भी चल पड़ेंगे, रास्ता हो जाएगा जो सुखी जीवन के मंज़िल पर पहुँचाएगा।जीवन यात्रा में खुद से प्यार करना संतुष्टि, खुशी का पहला रहस्य है।इस रहस्य को हमेशा अपने अंदर जीवंत रखना है।हर इंसान अपने जीवन को एक मास्टरपीस बनाए।अपने अंदर विश्वास पैदा करे कि मैं इस ग्रह पर अब तक का सबसे बड़ा व्यक्ति हूँ।अंत में कहूँगा :- चमक सूरज की नहीं इस दुनिया में हर इंसान किरदार की है, खबर ये आसमाँ के अखबार की है,तू चले तो तेरे संग कारवाँ चले, बात गुरूर की नहीं, तेरे अंदर संतुष्टि रूपी मौजूद ऐतबार की है.
पहली बार अंतरिक्ष में फिल्म की शूटिंग, NASA और Space X के प्रोजेक्ट में काम करेंगे टॉम क्रूज
Root News of India 2020-05-07 10:08:51
नई दिल्ली, 7 मई 2020, (आरएनआई)। हॉलीवु़ड एक्शन स्टार टॉम क्रूज अपनी अगली फिल्म को अंतरिक्ष में शूट करने के लिए तैयार हैं. हॉलीवुड स्टार कथित तौर पर एक एक्शन एडवेंचर फिल्म शूट करने के लिए नासा और एलन मस्क की अंतरिक्ष कंपनी स्पेस एक्स के साथ बातचीत कर रहे हैं.
कोरोना के नाम आई फॉर इंडिया / 4 घंटे से ज्यादा चली सितारों की सबसे बड़ी वर्चुअल कॉन्सर्ट, अपने घरों से परफॉर्मेंस देकर जुटाया करोड़ों का फंड
Root News of India 2020-05-04 11:12:48
नई दिल्ली/मुंबई, 4 मई 2020, (आरएनआई)। कोरोना पीड़ितों के लिए फेसबुक पर 4 घंटे 20 मिनट से ज्यादा चले देश के सबसे बड़े वर्चुअल कॉन्सर्ट आई फॉर इंडिया में रात 12 बजे तक 3 करोड़ 44 लाख रुपए डोनेट हुए। इवेंट का आगाज आमिर खान के मैसेज के साथ हुआ और समापन शाहरुख खान ने बेहतरीन गाना गाकर किया। पूरे इवेंट में सुपर स्टार सलमान खान की गैर मौजूदगी चर्चा का विषय रही।ऑनलाइन के साथ ऑफलाइन डोनेशन भी
ऑनलाइन मनोरंजन में हिंदी का जलवा
Root News of India 2020-05-01 07:12:52
नई दिल्ली, 1 मई 2020, (आरएनआई)। लॉकडाउन के कारण घरों में कैद लोग समय काटने के लिए ऑनलाइन मनोरंजन का सहारा ले रहे हैं। इसमें भी लोग ज्यादातर हिंदी में कंटेंट देख रहे हैं। टियर-2 और टियर-3 शहरों के साथ ग्रामीण इलाके भी इस मामले में पीछे नहीं हैं। 
बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर का 67 साल की उम्र में निधन, कैंसर से थे पीड़ित
Root News of India 2020-04-30 10:04:44
मुंबई, 30 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। हिंदी सिनेमा के चिंटू कहे जाने वाले चॉकलेटी मिजाज के अभिनेता ऋषि कपूर का आज 67 साल की उम्र में हुआ निधन हो गया। वह पिछले 3 साल से कैंसर से जूझ रहे थे।
मशहूर एक्टर इरफान खान का निधन
Root News of India 2020-04-29 11:00:16
मुंबई, 29 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। देश में जारी कोरोना संकट के बीच बॉलीवुड में शोक की लहर है। बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान का आज 54 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। वह काफी समय से कैंसर से पीड़ित थे।
मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में गहराया संकट
Root News of India 2020-04-27 09:30:43
मुंबई, 27 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। कोरोना संक्रमण से जूझ रहे शहर मुंबई में अगले छह महीनों तक फिल्म या टेलीविजन धारावाहिकों की शूटिंग शुरू होने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। फिल्मों की शूटिंग से जुड़ी सारी कामगार यूनियनों की फेडरेशन को इस बारे में सरकार की तरफ से गाइडलाइंस तय किए जाने का इंतजार है। वहीं, फिल्म निर्देशकों की संस्था का मानना है कि पहली जरूरत मुंबई में कोरोना से जंग जीतने की है, सिनेमा उसके बाद की प्राथमिकता है।
अमिताभ बच्चन ने बढ़ाया 'एक कदम, इंसानियत की ओर', हाथ जोड़कर कहा- हमें इंसान होना चाहिए
Root News of India 2020-04-27 09:30:32
मुंबई, 27 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। कोरोना वायरस से देश को बचाने के लिए इस समय बॉलीवुड साथ मिलकर काम कर रहा है। एक तरफ जहां बॉलीवुड लोगों से घर में रहने की अपील कर रहा है तो वहीं दूसरी ओर गरीबों की आर्थिक मदद में सहायता भी दे रहे हैं। इस बीच अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर कोरोना वॉरियर्स का हौसला बढ़ाया है।
मशहूर लेखक-कवि उत्तम तुपे का निधन
Root News of India 2020-04-27 09:30:11
पुणे, 27 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। मशहूर लेखक और कवि उत्तम तुपे का लंबी बीमारी के बाद रविवार को पुणे में एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 78 वर्ष के थे।
टॉम एंड जेरी कॉर्टून के निर्देशक जीन डाइच का निधन
Root News of India 2020-04-21 09:47:31
नई दिल्ली, 21 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। दुनियाभर में जारी कोरोना संकट के बीच कार्टून देखनेजगत के लोगो के लिए एक बुरी खबर है, टीवी के मशहूर कार्टून टॉम एंड जेरी के निर्देशक जीन डाइच का बीते गुरुवार रात 95 वर्ष की आयु में निधन हो गया।
अमिताभ बच्चन ने कोरोना की जंग में सभी जाति-धर्मों को बताया एक
Root News of India 2020-04-14 08:01:09
मुंबई, 14 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। कोरोना वायरस महामारी के चलते अमिताभ बच्चन ने इस पर अपनी फीलिंग्स शेयर की हैं। उन्होंने इंसानियत को लेकर अपनी फीलिंग्स बताते हुए अपनी एक थ्रोबैक तस्वीर शेयर की है। ये तस्वीर उनके जवानी के दिनों की है। उन्होंने जो तस्वीर शेयर की है वो दो हिस्सों में हैं। उसमें तस्वीर का एक हिस्सा उनके प्रेजेंट टाइम के लुक का है और दूसरा हिस्सा थ्रोबैक का है। इस तस्वीर के साथ उन्होंने हिंदी में कैप्शन लिख कर अपनी फीलिंग्स शेयर की है।
बिग बी को आई पिता की याद, शेयर की कविता
Root News of India 2020-04-09 08:25:28
नई दिल्ली, 9 अप्रैल 2020, (आरएनआई)। एक्टर अमिताभ बच्चन उन चंद एक्टर्स में से एक है जो सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस से हमेशा ही जुड़े रहते हैं वहीं लॉकडाउन में तो बिग बी और भी ज्यादा एक्टिव हो गए हैं.
कोरोना के खिलाफ साथ आए फिल्म इंडस्ट्री के दिग्गज सितारे
Root News of India 2020-04-07 06:49:49
नई दिल्ली, 7 अप्रैल 2020, (आरएनआई )। पूरे विश्व में कोरोना वायरस अपने पैर पसार रहा है। ऐसे में इसका बड़ा असर देश में भी देखने को मिल रहा है। एक तरफ जहां सरकार कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रही है तो वहीं बॉलीवुड भी कोरोना के खिलाफ मैदान में उतर गया है। आर्थिक सहायता के साथ ही साथ सितारे अपने फैंस को घर पर रहने के लिए भी प्रेरित कर रहे हैं। इस बीच सिनेमा के सितारों की एक शॉर्ट फिल्म सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।
अंतरराष्ट्रीय कलाकार पेमा फत्या का निधन, देश के बड़े कलाकारों में होती थी गिनती
Root News of India 2020-04-05 15:59:51
भोपाल, 5 अप्रैल 2020, (आरएनआई )। अंतरराष्ट्रीय कलाकार पेमा फत्या का रविवार को निधन हो गया। वह मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के रहने वाले थे। पेमा फत्या को देश के बड़े कलाकारों में गिना जाता था। माना जा रहा है कि कोरोना के प्रकोप के खत्म होने के बाद मध्यप्रदेश सरकार पेमा फत्या और उनके बहाने जनजातीय चितेरों की सतत सर्जनात्मकता को समर्थन संरक्षण के लिए कुछ सार्थक कर सकती है।
मशहूर अभिनेत्री निम्‍मी का 88 वर्ष की उम्र में निधन
Root News of India 2020-03-26 10:39:41
मुंबई, 26 मार्च 2020, (आरएनआई )। गुजरे जमाने की मशहूर अदाकारानिम्मी का बीते बुधवार 88 वर्ष की आयु में निधन हो गया।
मराठी अभिनेता जयराम कुलकर्णी का निधन
Root News of India 2020-03-17 08:00:09
मुंबई, 17 मार्च 2020, (आरएनआई )। दिग्गज मराठी अभिनेता जयराम कुलकर्णी का आज 88 वर्ष की आयु में पुणे में आज निधन हो गया, वहीँ जयराम कुलकर्णी के जाने से मराठी सिनेमा में शोक की लहर है।
कोरोना के चलते 31 मार्च तक नहीं होगी किसी फिल्म, सीरियल या वेब सीरीज की शूटिंग
Root News of India 2020-03-16 08:09:26
नई दिल्ली, 16 मार्च 2020, (आरएनआई )। मुंबई में फिल्म निर्माण की सारी गतिविधियां कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए रोक देने का फैसला लिया गया है। रविवार को मुंबई में फिल्म निर्माताओं, फिल्म निर्देशकों और फिल्म कारीगरों की यूनियनों की संयुक्त बैठक में ये फैसला लिया गया। कोरोना वायरस का संक्रमण भारत में दूसरे चरण में है और इसे तीसरे चरण में पहुंचने से रोकने के लिए पूरे महाराष्ट्र के स्कूल, सिनेमाघर, रंगशालाएं, शॉपिंग मॉल्स व क्रीडा संकुल पहले से ही बंद किए जा चुके हैं।
रजनीकांत ने कहा मैं बस राजनीति में बदलाव चाहता हूं
Root News of India 2020-03-12 12:15:00
चेन्नई, 12 मार्च 2020, (आरएनआई )। दक्षिण के सुपरस्टार रजनीकांत ने आज चेन्नई में कहा कि उन्होंने कभी भी मुख्यमंत्री के पद के बारे में नहीं सोचा है। वो केवल राजनीति में बदलाव चाहते हैं।
इस साल सर्वाधिक युवाओं ने जीता कला का राष्ट्रीय पुरस्कार
Root News of India 2020-03-07 09:26:23
नई दिल्‍ली, 7 मार्च 2020, (आरएनआई )। कला के क्षेत्र में काम करने वाले लोगों को हर साल दिया जाने वाला देश का प्रतिष्ठित राष्ट्रीय ललित कला पुरस्कार इस साल युवाओं के नाम रहा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 15 लोगों को बुधवार को ये पुरस्कार प्रदान किए जिनमें 12 युवा कलाकार शामिल हैं।
सिद्धार्थ शुक्ला बने बिगबॉस सीजन 13 के विनर
Root News of India 2020-02-16 16:10:06
मुंबई, 16 फरवरी 2020, (आरएनआई )। टीवी के जाने माने अभिनेता सिद्धार्थ शुक्ला बिगबॉस सीजन 13 के विजेता बन गये हैं।

Top Stories

Home | Privacy Policy | Terms & Condition | Why RNI?
Positive SSL